WhatsApp किस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखा गया है?whats app kase bana?

HTML/JavaScript

WhatsApp किस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखा गया है?whats app kase bana?

व्हाट्सएप के पास दुनिया भर में 900 मिलियन से ज्यादा यूजर है और इस में काम करने वाले इंजीनियर की संख्या महज 50 है क्या आपको पता है इतने बड़े ट्रैफिक को कंट्रोल केवल 50 इंजीनियर कैसे कर सकते हैं यह सब संभव हुआ है एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की मदद से जिसका नाम Erlang है.

तो चलिए जानते हैं इस लैंग्वेज की कुछ खास बातें और यह भी जानते हैं कि व्हाट्सएप कोई और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में क्यों नहीं बनाया गया है।

1.अगर आसान भाषा में बताया जाए तो जैसे c++ language object arranged programming नियम को फॉलो करती है उसी प्रकार erlang लैंग्वेज simultaneousness programming नियम पर आधारित है। अब ये simultaneousness programming क्या होती है इसका हिंदी में मतलब होता है एक साथ हुआ। इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के द्वारा बनाए गए एप्लीकेशन में बहुत सारी प्रक्रिया एक साथ होने पर भी कोई blunder नहीं आता है। आपने व्हाट्सएप में देखा होगा अगर आपके बहुत सारे फ्रेंड एक ही समय पर बहुत सारा मैसेज करते हैं तो सारा का सारा मैसेज आपके व्हाट्सएप नंबर पर एक साथ ही आता है। अगर आप किसी के साथ वीडियो कॉल भी कर रहे हो तब भी मैसेज आएंगे। क्या आपको पता है कि इसके पीछे बैंक लिंक में बहुत सारी प्रक्रियाएं चलती रहती हैं क्या कभी ऐसा हुआ है कि आपने किसी अपने खास दोस्त को कोई वीडियो या कोई मैसेज भेजा और वह किसी अन्य व्यक्ति पर चला गया हो ऐसा कभी नहीं होता व्हाट्सएप में यह सारी बातें इसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखी गई है। व्हाट्सएप के पास एक बहुत बड़ा यूजर बेस है जिस को हैंडल करना एक साधारण प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बस की बात नहीं है इसलिए इसको erlang में बनाया गया है।

2.सुरक्षा की कोडिंग

बड़े-बड़े एप्लीकेशन में सिक्योरिटी की कोडिंग भी इसी लैंग्वेज के द्वारा होती है। व्हाट्सएप में फीचर है start to finish encryption इसका मतलब यह है कि आपके द्वारा भेजे गए मैसेज को केवल वही व्यक्ति देख सकता है जिसके पास आपने कोई मैसेज भेजा है स्वयं व्हाट्सएप भी आपके उस मैसेज को नहीं देख सकता इस प्रकार की सिक्योरिटी को इसी लैंग्वेज में लिखा जाता है।अगर आप अपने प्लीकेशन में सिक्योरिटी कि कोडिंग नहीं करेंगे तो हैकर आपके एप्लीकेशन का गलत इस्तेमाल कर सकते हैं।

3. Erlang programming malevolent प्रोग्राम को आसानी से पहचान सकती हैं अगर कोई हैकर चाहे व्हाट्सएप में कोई noxious टास्क परफॉर्म करने का तो यह लैंग्वेज उस कोड को आसानी से पहचान लेगी।

4. व्हाट्सएप के अलावा WeChat एप्लीकेशन को भी इसी लैंग्वेज से बनाया गया है।

5. इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में कम कोड लिखकर बड़े काम को किया जा सकता है।

6. इस लैंग्वेज को पढ़ना थोड़ा सा hard माना जाता है। आपको डायरेक्टली इस लैंग्वेज को नहीं पढ़ना चाहिए पहले आप सी लैंग्वेज को अच्छी तरह से पढ़ लीजिए फिर आप कोई दूसरी लैंग्वेज पढ़िए।

7. व्हाट्सएप पर एक दिन में 50 billion से ज्यादा मेसेज भेजे जाते है इतने बड़े डाटा को हैंडल करना एक बड़ी चुनौती है और वो भी केवल 50 इंजिनियर्स के साथ। इस लैंग्वेज को काफी प्रोफेशनल ढंग से बनाया गया है।

Post a Comment

1 Comments