गूगल का प्रोजेक्ट सोली (Soli) क्या है? इसके क्या उपयोग हैं?

HTML/JavaScript

गूगल का प्रोजेक्ट सोली (Soli) क्या है? इसके क्या उपयोग हैं?

इंफॉर्मेशन तकनीक का इतिहास इनपुट-ऑउटपुट इंटरफ़ेस के इतिहास के समांतर चला है और वर्तमान में हम एक और बहुत महत्त्वपूर्ण तकनीकी छलाँग के गवाह बनने जा रहे हैं जिसका नाम Google ने प्रोजेक्ट सोली रखा है।

एक समय था जब कंप्युटर केवल वैज्ञानिकों के पास होने वाली एक रहस्यमयी मशीन का नाम था। आम लोगों के लिए इसका उपयोग वैसा ही दूभर समझा जाता था जैसे हब्बल टेलिस्कोप का है। यह वह समय था जब IBM कंप्युटर की दुनिया का बेताज बादशाह था और बिल गेट्स एक नवयुवक जो हार्वर्ड से अभी पास भी नहीं हुआ था। इस युवक ने IBM को पर्सनल कंप्युटर के लिए पहला सक्षम इनपुट-आउटपुट इंटरफ़ेस (I/O) बेचा जो बाद में MS DOS बना और जिसने पर्सनल कंप्युटर के अस्तित्व का आधार रखा। इस कड़ी में अगले महत्वपूर्ण चरण थे

जेरॉक्स कम्पनी के द्वारा पहला फ़ोल्डर बेस्ड ऑपरेटिंग सिस्टेम बनाना जो माउस से ऑपरेट किया जा सकता है। इसे स्टीव जॉब्स ने अपनाया और यही Microsoft Windows का आधार बना.

ऐसा एक बड़ा परिवर्तन था Apple के द्वारा iPhone लाना और हमारे मोबाइल डिवाइस से कीबोर्ड का गायब होकर हमारा टचस्क्रीन को अपनाना.

इन्टरनेट ऑफ थिंग्स IOT के आने के साथ आवाज़ से इनपुट देने पर Amazon लंबे समय से कार्य कर रही है और Alexa और Google Assistant से लेकर Siri तक हमने देखे ही हैं। हालाँकि अभी तक हमने आवाज़ से ज्यादा टच को ही पसंद किया है
https://www.allovertech.online/?m=1
विज्ञान-गल्प जैसा लगने वाला एक विचार जिसमें किसी जादूगर की तरह हम दूर से ही हाथ से इशारा करके अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को कंट्रोल कर सकें वह Google के Project Soli के रूप में हमारे सामने है।

Google अपने Pixel 4 फोन में इस नयी इनपुट तकनीक को हमारे हाथों में देने जा रहा है।

प्रोजेक्ट सोली की मूल अवधारणा हम माइनॉरिटी रिपोर्ट जैसी विज्ञान कथाओं में देखते थे पर जो आया है वह उससे भी एडवांस है. ऐसा टचस्क्रीन जिसे टच ही न करना पड़ता हो.

सिर्फ हवा में आप ऐसा मूवमेंट करें जैसे कि किसी आइकॉन पर क्लिक करना, उसे ड्रेग एंड ड्राप करना, टाइप करना, एडोबे इलस्ट्रेटर पर ड्रा करना, या अन्य सारे कार्य जो फ़िलहाल हम टच स्क्रीन से करते हैं, वे अब उस तरह हो सकेंगे जैसे माइनॉरिटी रिपोर्ट में या अवेंजर्स फ़िल्म में किया जाता है

Post a Comment

1 Comments