HTML/JavaScript

इन कुछ आसान तरीकों से आप फोन में हैकर्स की घुसपैठ रोक सकते हैं।

एक समय था जब मोहल्ले के किसी घर में चोरी होती थी तो सुबह होते-होते आपका पड़ोसी भी चोरी का पूरा हिसाब किताब बता सकता था कि चोर के हाथ क्या-क्या लगा...लेकिन आज डिजिटल दौर में जब घर से ज्यादा मोबाइल फोन कीमती है तब चोरी का तरीका और जगह भी अपडेट हो चुके हैं।
जी हां, इन चोरों को हैकर (नाम तो सुना ही होगा) कहते हैं जो सीधा आपके फोन में घुसते हैं और कुछ ही सैकेंड्स में आपकी निजी
जिंदगी पब्लिक कर देते हैं और सबसे बड़ी दुर्भाग्य की बात यह है कि क्या चोरी हुआ है आपको हफ्तों तक पता भी नहीं चलता।
तो चलिए, अब ज्यादा हैकर्स की काबिलियत का बखान ना करते हुए हम सीधा मुद्दे पर आते हैं। देखिए, हमारा जो स्मार्टफोन हैं वो लगातार कई तरह के ऑनलाइन सिग्नल भेजता और लेता रहता है, इसलिए हैकर्स आसानी से हमारे मोबाइल फोन को टागरेट बनाते हैं। अब इन अटैक से आप अपने मोबाइल डेटा को आसानी से बचा सकते हैं, पर कैसे, यही हम आगे आपको बताएंगे, चलिए शुरू करते हैं।
- स्मार्टफोन एप्स को अपडेट करते रहें।
आपने देखा होगा कि फोन में एप्स अपडेट करने का नोटिफिकेशन हर दूसरे दिन आया रहता है। अधिकतर एक बार में क्लीयर नोटिफिकेशन करने वाले होते हैं। एप्स बनाने वाली सॉफ़्टवेयर कंपनियां लगातार अपने सॉफ़्टवेयर को अपडेट करती है, जिसमें सिक्योरिटी को लेकर कई नए फीचर होते हैं, जिससे हैकर्स की मुश्किलें बढ़ जाती है। इसलिए जब भी आपका स्मार्टफोन किसी भी ऐप को अपडेट करने का कहे, तो बिना देरी किए उसे इंस्टॉल करें।

-  पब्लिक वाई-फाई का इस्तेमाल करने से बचें
आपने देखा होगा कि शॉपिंग सेंटर, कैफे, एयरपोर्ट या किसी अन्य सार्वजनिक स्थान पर मुफ्त वाई-फाई मिलता है जो ऑनलाइन शरारतों के लिए एक खुला इनविटेशन है। जहां तक हो सके अपने निजी नेटवर्क का ही इस्तेमाल करें और पब्लिक प्लेस पर अपने मोबाइल फोन का वाई-फाई को बंद रखें। यदि यह संभव नहीं है, तो वीपीएन ऐप का इस्तेमाल करें जो नेटवर्क को सुरक्षित रखती है।

- सोशल मीडिया पर सावधानी से कुछ शेयर करें।
हालांकि फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर अपनी निजी जानकारी को सेटिंग्स में जाकर पब्लिक के बजाय अपनी फ्रेंडलिस्ट तक ही रखें। वहीं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के सिक्योरिटी फीचर का इस्तेमाल करें।

 अपनी क्रिएटिविटी पासवर्ड बनाने में लगाएं
अगर आपको क्रिएटिविटी दिखानी ही है तो एक मजबूत पासवर्ड बनाने में दिखाएं। केवल मजबूत पासवर्ड ही आपको आसानी से हैकर्स अटैक से बचा सकता है। पासवर्ड में संख्या और शब्दों का जटिल कॉम्बिनेशन बनाएं। हां, अपने बर्थडे, पालतू जानवर का नाम जैसे पासवर्ड बनाने से बचें।

- ईमेल के रास्ते हैकर हमेशा आते हैं !
हैकर्स के लिए आपके फोन पर अटैक करने और आपकी जानकारी तक पहुंचने का सबसे आसान रास्ता आपका ईमेल इनबॉक्स है। किसी भी प्रमोशनल ईमेल में लिंक पर क्लिक करने, अटैचमेंट खोलने या ईमेल के जरिए ऐप अपडेट करने में सावधानी बरतें।

ARTICLE :MOHD SHOAIB

Post a Comment

1 Comments