HTML/JavaScript

ज्यादा टेंशन लेने से हो सकती है दिल से सम्बंधित बीमारी । जानिए बीमारी के कारण ।

अत्यधिक तनाव के कारण हमारे शरीर के बहुत सारे अंग खराब हो जाते है खराब होने के साथ साथ अंग काम करना भी बन्द हो जाते है। तनाव की बात करे तो आज सभी कोई तनाव में रहता है सभी को किसी न किसी बात की टेंसन रहती है। इसके पीछे एक बड़ा कारण खराब जीवन शैली भी है। बहुत से लोग ऐसे भी होते है जो छोटी छोटी बातो पर तनाव ले लेते है। जिससे उनको बहुत नुकसान भी हो सकता है। इसका उनके शरीर पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। 
तनाव के कारण हमारे शरीर के कुछ अंग कमजोर हो जाते है, अगर आपको ज्यादा तनाव लेने की आदत है तो इसे दूर करने का प्रयास अवश्य करे। अत्यधिक तनाव से सबसे ज्यादा असर हमारे दिमाग पर पड़ता है, तनाव ही इंसानी दिमाग को कमजोर करने का एक बड़ा कारण भी हैं। 
तनाव में रहने से हमारे दिमाग में स्ट्रेस हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। जो हमारे मस्तिष्क के सेरिप्रम पर सबसे ज्यादा असर करता है। सेरिप्रम के प्रभावित होने से मस्तिष्क की कार्य प्रणाली भी प्रभावित होती है। जिससे इंसान की सोचने समझने की शक्ति कम हो जाती है। 
तनाव से हमारी आँखों पर भी विपरीत प्रभाव पड़ता हैं। ज्यादा तनाव के कारण चीज़े धुंधली दिखाई देने लगती है। इसके अलावा आँखों में कई तरह की परेशानिया भी जन्म लेती है। तनाव के कारण रेटिना की कार्यप्रणाली प्रभावित होने लगती है जिससे आँखों की रोशनी भी जा सकती है। 
आज दिल की बीमारी ज्यादातर लोगो को हो रही है। इनका भी कारण ज्यादा तनाव लेना है। क्योंकि इसके कारण दिल पर दबाव पड़ता है, जिससे दिल की गति में अंतर पैदा हो जाता है। तनाव के कारण लोगो को सांस लेने में भी परेशानी होती है। और धीरे धीरे दिल भी कमजोर होने लगता है। 

Post a Comment

1 Comments